रोहित सरदाना के अपने ही शो पर अभय दुबेजी ने कर दिया उसे शर्मसार

जी न्यूज़ के जाने माने संपादक रोहित सरदाना को अपने ही चैनल और अपने ही शो में अभय दुबे जी ने बुरी तरह शर्मसार कर दिया। दरअसल रोहित सरदाना का शो ‘ताल ठोक के’ जो देशभर में काफी मशहूर भी है। अभय दुबे जी ने रोहित सरदाना उनके गलत तरीके से खबर को तोड़-मरोड़कर पेश करने पर बुरी तरह लताड़ा जिसके कारण उन्हें अपने ही शो में शर्मसार होना पड़ा। वैसे भी जी न्यूज़ मीडिया एक ऐसा चैनल है जो कई बार विवादों में रह चुका है। अभी हाल ही में इसके मालिक सुभाष चंद्रा की गुंडागर्दी हरियाणा में देखी गई थी। जिसमें वह एक वोटिंग बूथ पर पहुंचकर लोगों के पहचान पत्र को बिना किसी सरकारी आज्ञा से चेक करने लगे थे। लेकिन जब उन्हें कुछ नहीं मिला तो लड़खड़ाते हुए भाग भी निकले थे।

जी न्यूज़ हर बार ऐसी ख़बरें प्लांट करती है जिसमें वह यह बताती है कि, भारतीय जनता पार्टी ही देश की सबसे साफ़-सुथरी पार्टी और सबसे अच्छी पार्टी है। लेकिन इस पर देश के वरिष्ठ पत्रकार अभय दुबे जी ने रोहित सरदाना को फटकार लगाते हुए कहा कि, “अभी जब मैं आपके प्रतीक्षा रूम में बैठा हुआ था तो उस वक़्त टीवी पर चल रहा था कि, 26/11 के तमाम शिकारों और परिवारों के प्रोग्राम को आप दिखा रहे थे। उनसे यह सवाल किये जा रहे थे कि, आपको किन तकलीफों से गुजरना पड़ा है।”

अभय दुबे जी ने बताया कि, इस बात को आप इस तरीके से भी पेश कर सकते है। लेकिन आप अपने चैनल की सिर्फ टीआरपी बढाने में लगे हुए है। टीआरपी बढ़ाकर ज्यादा मुनाफा कमाना ही होता है। इस पर अभय दुबे ने बताया कि जो आपने प्लेट्स सजा रखी है वह प्लेट्स सिर्फ एकतरफा ही है। इस कारण से आपके प्रोग्राम में आम आदमी पार्टी का कोई नेता आता नहीं है।

अभय दुबे ने जी न्यूज़ को पोल खोलते हुए कहा कि, जिस तरीके से आप लोग कार्यक्रम दिखाते हो आपकी यह कोशिश रहती है की भाजपा को देश की सबसे बेस्ट और सबसे साफ़ सुथरी पार्टी घोषित कर दी जाए और दिल्ली में इसको जीता हुआ घोषित कर दिया जाए। इसके अलावा दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी को आप इस तरीके से पेश करते हो कि, यह पार्टी देश की सबसे घटिया पार्टी है और इसको तो जमीन के अन्दर दफ़न कर देना चाहिए। जब अपनी पोल खुलने लगी तो रोहित सरदाना हमेशा की तरह बीच में बोल-बोलकर अभय दुबे जी की बात को दबाने की कोशिश में लगे रहे और उनकी बात पूरी करने का मौका नहीं दे रहे थे।

loading...

Leave your reply