भक्तों के फर्जी राष्ट्रवाद और देशभक्ति की पोल खोल दी इस फौजी ने

अब जब नोटबंदी के फैसले को पचास दिन पूरे होने को ही है सिर्फ सात दिन ही बाकि बच गए है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी के फैसले के बाद यह ऐलान किया था कि, “अगर इस फैसले में कोई कमी पाओ और कोई गड़बड़ी मिल जाये तो आप जिस तरीके की सजा मुझे देना चाहो तो दे सकते हो, इसके लिए आप मुझे किसी भी चौराहे पर बुला लेना।” लेकिन यह बात सभी जानते है कि, नोटबंदी के बाद भारतीय जनता पार्टी के नेताओं से  ही कितनी गड़बड़ियाँ सामने आ चुकी है। अभी हाल ही में खबर आई थी कि, आरएसएस वालों ने सफ़ेद कलर की बहुत बाइक्स खरीदी जिस पर बीजेपी की मोहर भी लगी हुई थी। नोटबंदी के बाद एक तरफ जहाँ जनता त्रस्त है वहीँ दूसरी ओर इतनी बाइक्स कैसे खरीदी गई?

नोटबंदी को फैसले को राष्ट्रवाद का चोला पहनकर देश भक्ति से भी जोड़ा गया और इसके लिए मोदी समर्थक देशभक्ति के उदहारण सोशल मीडिया में देते हुए नजर भी आये। देश के विकास के लिए हर कोई आगे आना चाहता है लेकिन नोटबंदी के बाद जिस तरह आम आदमी परेशान है उसी तरह कई ऐसे लोग भी है जो इस फैसले के कारण बैंकों के बाहर कतारों में लगे हुए है। इन लोगों में वह भी शामिल है जो अपने देश की रक्षा करते है। आज हम आपको देश के फौजी से मिलवाने जा रहे है जो बैंक की लाइन में लगने के बाद उनका सामना एक मोदी भक्त से हो गया था।

देश के साथ दुनिया के कई अर्थशास्त्रियों ने इस फैसले को देश के लिए बहुत हानिकारक फैसला करार दिया है। अभी एक मेसेज जो सोशल मीडिया में वायरल है उसका जवाब दिया है एक फौजी ने और वह सन्देश यह है कि, “जब देश के सैनिक 20-20 घन्टों तक लगातार सीमा पर खड़े रह सकते है तो आप लोगों को देश की भलाई के लिए इतना कष्ट भी सहन नहीं कर सकते।”

इस पर देश के इस फौजी जो की कर्नल रह चुके है उन्होंने बताया कि, “अभी इन दिनों में मैं एक दिन लाइन में खड़ा-खड़ा बहुत परेशान हो रहा था और इसलिए मुझे गुस्सा भी आ रहा था। इस फैसले और मुद्दे को लेकर मैंने इसकी व्यवस्था पर सवाल खड़े करने शुरू कर दिए। लेकिन कुछ मोदी भक्त जो कि, मेरे पीछे ही खड़े थे उन्होंने मुझे नसीहत देते हुए कहा कि, देश के उन जवानों के बारें में भी तो सोचिये जो दिन भर 20-20 घंटों तक सीमा पर खड़े रहकर तैनात रहते है। लेकिन जब मैंने उन्हें यह कहा कि, पिछले 20 वर्षों से भारतीय सेना में मैं अपनी सेवा दे चुका हूँ तो उन्हें जोर का झटका लगा।”

इसके लिए इस फौजी जिनका नाम दर्शन ढिल्लों है उन्होंने अपना एक सन्देश देकर देशवासियों और उन भक्तों को अपने विडियो के जरिये से बताया कि, “आज कल यह फेशन बन चुका है कि हर बात को देशभक्ति और राष्ट्रवाद से जोड़ा जा रहा है। हम सभी जानते है कि हमारी आम जिंदगी में हमें बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ता है। लेकिन हर बात को देशभक्ति से जोड़ देना बहुत गलत बात है।

loading...

Leave your reply