दिल्ली विधानसभा चुनाव: AAP ने इतने मु!स्लिम उम्मीदवारों पर जताया भरोसा

अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने सभी 70 सीटों पर अपने उम्मीदवारों का एलान कर दिया है। इस चुनाव में आम आदमी पार्टी ने पांच मु!स्लिम उम्मीदवारों को टिकट दिया है। इसमें शोएब इकबाल, इमरान हुसैन, अमानातुल्लाह खान, अब्दुल रहमान और हाजी युनूस शामिल हैं।

शोएब इकबाल को मटिया महल सीट से आम आदमी पार्टी ने टिकट दिया है। इसके अलावा इमरान हुसैन को बल्लीमारान सीट से टिकट दिया गया है। ओखला से मौजूदा विधायक अमानातुल्लाह खान को एक बार फिर मैदान में उता!रा गया है। सीलमपुर में अब्दुल रहमान और हाजी युनूस को मुस्तफाबाद सीट से टिकट दिया गया है।

इस बार आठ महिला उम्मीदवारों को टिकट

इस बार 46 मौजूदा विधायकों को टिकट दिया गया है। 15 मौजूदा विधायकों का टिकट का!ट दिया गया है। नौ सीटों पर नए उम्मीदवारों को टिकट दिया गया है। पिछली बार छह महिलाओं को टिकट दिया गया था। इस बार आठ महिला उम्मीदवारों को टिकट दिया गया है।

kejriwal.

बड़े चेहरों को मिला टिकट

दिल्ली सरकार में मंत्री गोपाल राय बाबरपुर विधानसभा सीट से चुनाव ल!ड़ते हुए नज़र आएंगे। दिल्ली सरकार के एक और मंत्री सत्येंद्र जैन शकूरपुर बस्ती से एक बार फिर चुनावी मैदान में होंगे। डिप्टी स्पीकर वंदना कुमारी शालिमार बाग सीट से पार्टी की उम्मीदवार हैं। वि!वादों में रहने वाले पूर्व मंत्री सोमनाथ भारती मालवीय नगर से तीसरी बार विधानसभा चुनाव ल!डेंगे। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल नई दिल्ली सीट से मैदान में होंगे।

पाला ब!दलने वाले नेताओं की कि!स्मत चमकी

इसके अलावा आम आदमी पार्टी ने पाला बदलने वाले नेताओं को भी टिकट दिया है। कांग्रेस नेता महाबल मिश्र के बेटे विनय मिश्र को द्वारका से उम्मीदवार बनाया गया है, जबकि शोएब इकबाल को मटिया महल से टिकट दिया गया है। बदरपुर विधानसभा सीट से पार्टी ने अपने विधायक का टिकट का!टते हुए राम सिंह नेता जी को उम्मीदवार बनाया है।

Election Commission of India.

दिल्ली चुनाव से जुड़ी अहम जानकारी

दिल्ली की कुल 70 सीटों में से 58 सीटें सामान्य श्रेणी की है। वहीं 12 सीटें आरक्षित हैं। 11 जनवरी को चुनाव आयोग ने रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को पूरा किया। इसके बाद चुनाव आयोग ने बताया है कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में कुल 1।46 करोड़ वोटर्स हिस्सा लेंगे जिनमें से 80,55,686 पुरुष हैं, जबकि 66,35,635 महिलाएं हैं। दिल्ली में चुनाव करवाने के लिए चुनाव आयोग ने 13,750 पोलिंग बूथ बनाने का फैसला किया है। इतना ही नहीं मतदान के दिन 8 हजार सरकारी टीचर्स की ड्यूटी इन पोलिंग बूथों पर लगाई जाएगी।