जामिया के एक और छात्र को यूएपीए के तहत किया गया गिरफ्तार

उत्तर पूर्वी दिल्ली में 24-25 फरवरी को हुई हिंसा में दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने आरोपित एक छात्र आसिफ इकबाल ‘तन्हा’ को भी गिरफ्तार किया है। आसिफ जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय में फारसी भाषा में बीए का छात्र है।

बता दें कि आफिस की यह गिरफ्तारी यूएपीए के तहत की गई है। स्पेशल सेल के मुताबिक, चांद बाग इलाके से भी दिल्ली दंगा मामले में शादाब नाम के शख्स को भी गिरफ्तार किया गया है। उसे दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया, जिसके बाद से उससे पूछताछ जारी है।

दिल्ली पुलिस की मानें तो फरवरी में उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में साजिश रचने के मामले में आसिफ इकबाल तन्हा को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस का यह भी कहना है कि आसिफ एक इस्लामी संगठन का सक्रिय सदस्य भी है। इसके अलावा, आसिफ जामिया कॉर्डिनेशन कमेटी  का भी अहम सदस्य है।

आरोप है कि आसिफ जामिया इलाके में दिसंबर में हुए नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हुए हिंसक प्रदर्शन में शामिल रहा था। 24 वर्षीय आसिफ फिलहाल शाहीन बाग इलाके में रहता है। बता दें कि क्राइम ब्रांच पहले ही 15 दिसंबर को जामिया इलाके में हुई हिंसा में आसिफ को गिरफ्तार कर चुकी है, जबकि अब स्पेशल सेल ने फरवरी में उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में गिरफ्तार किया है। इस हत्या में आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन को भी आरोपित बनाया गया है।

बता दें कि 24-25 फरवरी को उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में उपद्रवियों ने 1000 से अधिक गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया था। वहीं, हिंसा करने वालों ने स्कूलों को भी फूंक डाला। हिंसक प्रदर्शन के दौरान कई लोग उपद्रवियों की चपेट में आए, जिसके चलते 70 से अधिक लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी, जबकि सैकड़ों लोग इसमें घायल भी हुए। जान गंवाने वालों में इटैलिजेंस ब्यूरो का अफसर अंकित शर्मा भी था, जिसका हिंसक भीड़ ने बेरहमी से कत्ल कर दिया था।