योगी के इस विधायक का बयान वा!यरल, CAA पर मु!स्लिमों को लेकर कह दी ये बात

गोरखपुर के बीजेपी विधायक डॉ। राधा मोहन दास अग्रवाल ने कहा है कि ‘अगर उनके निर्वाचन क्षेत्र के किसी मुस!लमान को नागरिकता संशोधन कानू!न (CAA) के तहत देश से नि!काला गया तो वह उत्तर प्रदेश विधानसभा की अपनी सदस्यता से इस्तीफा दे देंगे। राधा मोहन दास अग्रवाल, गोरखपुर से 2002 से विधायक हैं। वो भाजपा के CAA पर अफ!वाहों को दूर करने के कार्यक्रम के तहत अपने निर्वाचन क्षेत्र के मु!स्लिमों के पास पहुंचे थे।

उन्होंने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा ‘संपर्क कार्यक्रम के तहत मैंने मुस्लिमों को भरोसा दिया कि CAA के तहत अगर मेरे निर्वाचन क्षेत्र गोरखपुर के किसी मु!स्लिम नागरिक को बाहर किया जाता है तो मैं अपना इस्तीफा दे दूंगा।’ उन्होंने आगे कहा, ‘वास्तव में जहां कहीं भी मैं जा रहा हूं, मैं लोगों से पूछ रहा हूं कि उनके ड!र का क्या आधार है कि CAA भारतीय मु!स्लिमों की नागरिकता छी!न लेगा।’

दूर कर रहा हूं संदे!हः आरएमडी अग्रवाल

उन्होंने कहा, ‘मैं उस अधिनियम के बारे में मु!स्लिम लोगों के सं!देह को दूर करने की पूरी कोशिश कर रहा हूं, जो बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान में स!ताए गए गै!र मु!स्लिमों को नागरिकता देने के लिए है।’  गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानू!न (CAA) को लेकर एक तरफ विरो!ध हो रहा है तो दूसरी तरफ बीजेपी इस कानू!न के समर्थन में लगातार जनसभाएं और पदयात्रा कर रही है।

उन्‍होंने कहा, ” मु!सलमानों को समझाने का प्रयास किया जा रहा है। वो भी भारत के नागरिक हैं। उन्हे भी पी!ड़ा हो सकती है। मैं जनप्रतिनिधि हूं। मुझे उनकी पी!ड़ा सुननी भी चाहिए। 1947 में देश का बं!टवारा हुआ। जो मु!सलमान भारत के बं!टवारे के समर्थक नहीं थे वह भारत में रह गए। मज!हब के नाम पर बं!टवारा किया गया था।”

अग्रवाल ने ना!रे के बारे में बताते हुए कहा, ” ना!रे भी ऐसे-ऐसे लगाए जा रहे हैं, ” हं!स के लिया है पा!किस्‍तान, ल!ड़कर लेंगे हिन्‍दुस्‍तान ”। मुस्लिम समाज को कुछ लोग गलत जानकारी दे रहे हैं कि सीएए आ गया है, उससे तुम लोगों को इस देश से बाहर नि!काल दिया जाएगा। ये तुम्‍हें इस देश से बाहर करने की सा!जिश है। यही वजह है कि जनप्रतिनिधि होने नाते मैं मु!स्लिम त!बके के लोगों के पास जाकर उन्‍हें सीएए कानू!न के बारे में जा!गरुक कर रहा हूं।”