जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में आतंकी हमला, हेड कॉन्स्टेबल मोहम्मद अमीन शहीद

कुलगाम। जम्मू कश्मीर के जिले कुलगाम में यारीपोरा के पास शनिवार शाम सुरक्षाबलों और पुलिस के संयुक्त नाके पर आतंकियों ने हमला कर दिया। आतंकियों ने पहले ग्रेनेड दागे और फिर गोलियां चलाते हुए भाग निकले।

इस हमले में जम्मू कश्मीर पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल मोहम्मद अमीन शहीद हो गए। उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया। वह पुलवामा के रहने वाले थे। उधर, सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेरकर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है।

8 घंटे चली थी कुलगाम में मुठभेड़

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में पिछले गुरुवार को 8 घंटे तक सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई। यहां यमरच इलाके में तीन आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। हालांकि, इस मुठभेड़ में किसी के घायल होने की खबर नहीं आई थी।

बडगाम में लश्कर-ए-तैयबा के 5 आतंकी गिरफ्तार

कश्मीर के बडगाम में शनिवार को सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली। सुरक्षाबलों ने एक आतंकी ठिकाने का पता लगाया। लश्कर-ए-तैयबा का मददगार जहूर वानी को गिरफ्तार किया। पुलिस ने बताया कि यह ठिकाना सुरंगनुमा था। यहां से हथियारों के साथ गोला-बारूद भी बरामद किया गया।

सुरंग में मिले सामानों से लगाया पता

पुलिस सूत्रों ने बताया कि सुरंग में मिले सामानों को देखकर लगता है कि आतंकी कई दिनों से यहां रुके थे। यह सुरंग जहूर वानी के घर से करीब 500 मीटर दूर है। पुलिस ने बताया कि जांच के दौरान वानी के चार और सहयोगियों को पकड़ा है। सभी अरिजल खानसैब कस्बे के रहने वाले हैं। ये सभी लश्कर के आतंकियों को लॉजिस्टिक और ट्रांसपोर्ट मुहैया कराते थे। यह ग्रुप पिछले कुछ महीनों से इस इलाके में एक्टिव था।