AAP विधायक रोज दे रहा था मौत की धमकी, लिखकर डॉक्टर ने की ख़ुदकुशी

देश की राजधानी दिल्ली के नेब सराय इलाके में 52 वर्षीय एक डॉक्टर ने खुदकुशी कर ली। डॉक्टर ने अपने सुसाइड नोट में आम आदमी पार्टी के एक विधायक को इसका जिम्मेदार ठहराया है। पुलिस के मुताबिक डॉक्टर ने आप विधायक पर धमकाने और मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शनिवार को डॉक्टर राजेन्द्र सिंह ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उनके पास से दो-पेज का एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें उन्होंने आत्महत्या की वजह बताई है।

उन्होंने आत्महत्या के लिए इलाके के विधायक प्रकाश जरवाल और उसके सहयोगी कपिल को जिम्मेदार ठहराया है। अपने दो-पेज के नोट में डॉक्टर ने आरोप लगाया कि सत्तारूढ़ पार्टी के नेता और उनके सहयोगी उनसे पैसे निकलवाने की कोशिश कर रहे थे।

जब उन्होंने भुगतान करने से इनकार कर दिया तो वे लोग उन्हें धमकाने और मानसिक रूप से प्रताड़ित करने लगे।

डॉक्टर राजेंद्र सिंह ने सुबह 5-6 बजे के बीच आत्महत्या कर ली। राजेंद्र ने छत पर टंगी रस्सी के सहारे फांसी का फंदा बनाकर जान दे दी। राजेन्द्र के एक किरायेदार ने जब सुबह उन्हें लटके हुए देखा तो उनके घरवालों को इसकी सूचना दी और पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव बरामद किया।

मृतक के बेटे हेमंत की शिकायत पर पुलिस ने आप विधायक और उसके सहयोगी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक डॉक्टर के पास से पुलिस ने एक डायरी भी बरामद की है।

इस डायरी में लिखा है कि मेरा इस इलाके में एक क्लीनिक है और मेरे कुछ पानी के टैंकर दिल्ली जल बोर्ड में किराए से चलते थे लेकिन विधायक प्रकाश और उसका सहयोगी कपिल नागर मुझसे हर टैंकर के हिसाब से पैसे मांगने लगे। डरकर मैंने उन्हें कुछ पैसे दिये भी लेकिन इसके बाद विधायक ने मेरे सभी टैंकर दिल्ली जल बोर्ड से हटवा दिए।

नोट में आगे लिखा है कि यहां से टैंकर हटने के बाद जब उन्होंने अपने टैंकर ओखला के दिल्ली जल बोर्ड के लगवाए तो प्रकाश जरवाल ने वहां से भी टैंकर हटवा दिये। डॉक्टर ने आगे लिखा इसके बाद उन्हें लगातार जान से मारने की धमकी दी जा रही थी।