मोदी ने कश्मीर को लेकर दिया ये बड़ा बयान, अपने मंत्रियों को दिया ये आदेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर के दौ!रे पर जाने वाले मंत्रियों से शुक्रवार को कहा कि वे वहां शहरी इलाकों में ही नहीं बल्कि घाटी के गांवों में भी लोगों के बीच विकास का संदेश फैलाएं. सूत्रों से यह जानकारी मिली.

जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रह्मण्यम ने जम्मू में समीक्षा बैठक के बाद बताया कि लोगों तक पहुंचने के लिए बड़े अभियान के तहत 38 केंद्रीय मंत्री शनिवार से जम्मू-कश्मीर के 60 स्थानों का दौरा करेंगे.

सूत्रों ने बताया कि नयी दिल्ली में हुई मंत्री परिषद की बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने मंत्रियों से कहा कि वे स्थानीय लोगों से संवाद के दौरान विकास का संदेश फैलाएं. उनसे विभिन्न केंद्रीय योजनाओं की जानकारी भी देने को कहा गया, जिससे जमीनी स्तर पर लोगों को फायदा होगा.

प्रधानमंत्री ने मंत्रियों से कहा कि उन्हें केवल शहरी इलाकों तक ही सीमित नहीं होना चाहिए बल्कि गांवों के लोगों से मिलना चाहिए और जम्मू-कश्मीर में केंद्र की ओर से किए जा रहे विकास कार्यों की जानकारी देनी चाहिए.

उल्लेखनीय है कि 18 से 24 जनवरी के बीच 38 केंद्रीय मंत्री संघ शासित प्रदेश के दोनों संभागों का दौरा करेंगे और गृह मंत्रालय इसका समन्वय करेगा.  इनमें से 51 दौरे जम्मू के और आठ दौरे श्रीनगर के होंगे.

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी रियासी जिले के कटरा और पंथाल इलाके का दौरा 19 जनवरी को करेंगी. इसी दिन मंत्रिमंडल में उनके सहयोगी रेल मंत्री पीयूष गोयल श्रीनगर जाएंगे. गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी 22 जनवरी को गांदरबल और 23 जनवरी को मनीगाम का दौरा करेंगे.

कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद 24 जनवरी को बारामूला जिले के सोपोर जाएंगे. वी के सिंह का 20 जनवरी को उधमपुर के टिकरी जाने का कार्यक्रम है, जबकि किरण रिजिजू 21 जनवरी को जम्मू के सुचेतगढ़ जाएंगे.

इसी तरह केंद्रीय मंत्री आर के सिंह डोडा जिले के खेलानी जाएंगे और श्रीपद नाइक श्रीनगर के एसकेआईसीसी में बैठक करेंगे. इनके अलावा केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर, गिरिराज सिंह, प्रहलाद जोशी, रमेश पोखरियाल निशंक और जीतेंद्र सिंह उन मंत्रियों में शामिल है जो जम्मू-कश्मीर के विभिन्न जिलों का दौरा करेंगे.