मुस्लिम नेता को लेकर सोशल मीडिया में वायरल हो रहा ऐसा मेसेज, जानिए सच

सोशल मीडिया पर इन दिनों दो तस्वीर तेजी से वायरल हो रही हैं। इन दो तस्वीरों को हिंदू और मुसलमान के बीच नफरत फैलाने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। दावा है कि एक मुस्लिम कांग्रेस नेता ने पहले तो महिला से राखी बंधवाई फिर उसका रे!प किया। जानें इस दावे की सच्चाई क्या है?

वायरल तस्वीरों में क्या है?

पहली वायरल तस्वीर में एक हिंदू महिला मुस्लिम युवक की कलाई में राखी बांध रही है।

दूसरी वायरल तस्वीर में एक महिला घायल अवस्था में अस्पताल के बिस्तर पर लेटी हुई है।

तस्वीरों के साथ वायरल हो रहे मैसेज में लिखा जा रहा है, ‘’उत्तर प्रदेश के गोंड़ा में हिंदू महिला ने कांग्रेस नेता गफूर को अपना भाई माना और राखी बांधी थी। 27 अगस्त सोमवार को गफूर खान ने महिला को काम के सिलसिले में घर बुलाया और उसका बला!त्कार करके पिटाई करके घर से भाग दिया।’’ मैसेज में मुस्लिम व्यक्ति को कांग्रेस नेता बताया जा रहा है।

पहली तस्वीर की सच्चाई

इंटरनेट पर पड़ताल के दौरान पता चला कि एक मुस्लिम युवक राखी बांधती हिंदू महिला की ये तस्वीर साल 2017 यानि एक साल पहले भी पोस्ट हुई थी। लेकिन तब इसकी कहानी नफरत नहीं प्यार और विश्वास पैदा करने वाली थी।

साल 2017 में इस तस्वीर को पोस्ट करते हुए लिखा गया था, ‘’कुछ रिश्ते मजहब से बढ़कर होते हैं। मोहब्बत और नफरत का कोई धर्म नहीं होता। अनेकता में ही एकता है।’’

एक मुस्लिम नेता द्वारा एक हिंदू महिला का राखी बँधवा कर रेप करने की झूठी ख़बर फैला कर समाज में नफ़रत घोलने की जो कोशिश की जा रही थी उसका सच भी देख लीजिए…..!!साभार- ABP News

Posted by The Salman Khan on Friday, August 31, 2018

Leave your reply