दिल्ली चुनाव को लेकर सोनिया गाँधी ने दिए ये निर्देश, कांग्रेस ऐसे ल!ड़ेगी विधानसभा चुनाव

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दिल्ली कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को विधानसभा चुनाव ल!ड़ने का निर्देश दिया है। सोमवार शाम सोनिया गांधी ने लोकसभा चुनाव ल!ड़े नेताओं की बैठक बुलाई जिसमें ये निर्देश दिए गए। वहीं इस बैठक में दिल्ली कांग्रेस के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष राजेश लिलोठिया ने सोनिया गांधी के सामने प्रस्ताव रख दिया कि वो मुख्यमंत्री केजरीवाल के सा!मने ल!ड़ना चाहते हैं।

दरअसल, दिल्ली कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता विधानसभा चुनाव नहीं ल!ड़ना चाहते। नेताओं की ये बेरुखी पार्टी आलाकमान को रा!स नहीं आ रही है। पार्टी आलाकमान की राय है कि कांग्रेस मजबूती से ल!ड़ती हुई दिखनी चाहिए। इसीलिए बड़े नेताओं खास तौर पर लोकसभा चुनाव ल!ड़ने वाले नेताओं को विधानसभा चुनाव ल!ड़ने के निर्देश दिए गए हैं।

बैठक में अजय माकन, जेपी अग्रवाल, अरविंदर सिंह लवली, राजेश लिलोठिया और नसीब सिंह मौजूद थे। हालांकि कौन-कौन से बड़े नेता ल!ड़ेंगे ये अभी साफ नहीं है क्योंकि सूत्रों के मुताबिक सोनिया गांधी के सा!मने भी एक नेता ने उम्र का हवाला देते हुए चुनाव ल!ड़ने में असमर्थता जाहिर की तो वहीं एक नेता ने फैसला लेने के लिए एक दिन का समय मांगा है।

अजय माकन भी नहीं ल!ड़ना चाहते हैं चुनाव

आपको बता दें कि प्रदेश अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा और कैम्पेन कमिटी प्रमुख कीर्ति आजाद खुद की जगह क्रमशः बेटी और पत्नी को चुनाव ल!ड़ाना चाहते हैं। वहीं घोषणापत्र समिति के प्रमुख अजय माकन भी चुनाव ल!ड़ना नहीं चाहते।

पूर्व प्रदेश अध्यक्ष जेपी अग्रवाल भी बेटे को टिकट दि!लाने की कोशिश में हैं। पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष राजेश लिलोठिया भी चुनाव ल!ड़ने के मूड में नहीं थे लेकिन अब उन्होंने केजरीवाल के सा!मने ल!ड़ने का प्रस्ताव दे दिया है।

कई नेताओं ने छोड़ दी है पार्टी

हालांकि, कुछ बड़े नेता चुनाव ल!ड़ने की तैयारी कर भी रहे हैं। पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली (गांधी नगर), हारून यूसुफ (बल्लीमारान) से और मतीन अहमद (सीलमपुर) से चुनाव ल!ड़ेंगे। अब सोनिया गांधी के निर्देश के बाद जाहिर है कुछ और बड़े चेहरे विधानसभा चुनाव में नजर आएंगे।

कांग्रेस के लिए बड़ी चिं!ता की बात ये भी है कि उसके बड़े नेता आम आदमी पार्टी में शामिल होना चाहते हैं। पूर्व विधायक शोएब इकबाल और उनके पार्षद बेटे आले इकबाल के बाद पूर्व विधायक राम सिंह नेताजी और दिल्ली में कांग्रेस का पूर्वांचली चेहरा महाबल मिश्रा के बेटे ने आम आदमी पार्टी का दामन थाम लिया है।